Englishಕನ್ನಡമലയാളംதமிழ்తెలుగు

अजहरुद्दीन पर आजीवन प्रतिबंध गलत: हाई कोर्ट

Posted by:
     Published: Thursday, November 8, 2012, 15:08 [IST]
 

अजहरुद्दीन पर आजीवन प्रतिबंध गलत: हाई कोर्ट
 

नई दिल्ली। भारत के सफल कप्तानों में से एक मोहम्मद अजहरूद्दीन के लिए आज का दिन बेहद खास है। आंध्र प्रदेश हाई कोर्ट ने आज एक बड़े फैसले में कहा है कि पूर्व क्रिकेटर अजहर पर लगा आजावीन प्रतिंबध पूरी तरह से गलत है। कोर्ट ने कहा कि अजहर पर ताउम्र प्रतिबंध लगाना गैरकानूनी है। मालूम हो कि मैच फिक्सिंग के मामले में बीसीसीआई ने अजहर पर जीवन भर का प्रतिबंध लगाया था।

अजहर ने सिटी सिविल कोर्ट के फैसले के खिलाफ 27 अगस्त 2001 को आंध्र हाई कोर्ट में याचिका दायर की थी। जिस पर आज सुनवाई हुई और हाईकोर्ट ने यह फैसला सुनाया।

आपको बता दें कि मैंच फिक्सिंग के मामले में लिफ्त पाये जाने पर मोहम्मद अजहरूद्दीन पर बीसीसीआई ने साल 2000 में आजीवन प्रतिबंध लगा दिया था। 15 जून, 2000 को दक्षिण अफ्रीका के खिलाड़ी हैंसी क्रोनिए ने अजहर पर मैच फिक्सिंग का आरोप लगाया था। इसके बाद 20 जुलाई, 2000 को अजहर के घर पर छापे पड़े थे। 31 अक्टूबर को बुकी ने पैसे देने की बात कही थी।

हालांकि साल 2000 में बीसीसीआई की ओर से लगा प्रतिबंध और जगहंसाई होने के बाद अजहर ने क्रिकेट से अपने आप को बहुत दूर कर लिया था और क्रिकेट को अलविदा कहते हुए संन्यास ले लिया था। उसके बाद अजहर ने राजनीति में कदम रखा और कांग्रेस के टिकट पर मुरादाबाद से लोकसभा चुनाव लड़ा और सांसद चुने गये। गाहे-बेगाहे अजहर किसी न्यूज चैनल पर क्रिकेट विशेषज्ञ के रूप में दिखायी पड़ जाते हैं।

English summary
Former India cricketer Mohammad Azharuddin heaved a sigh of relief, as Andhra High Court said that the ban imposed on the cricketer was illegal, on Thursday.
कमेंट लिखें