Englishಕನ್ನಡമലയാളംதமிழ்తెలుగు

पुजारा और आश्विन की पारी से भारत ने इंग्‍लैंड पर दबाव बनाया

Posted by:
     Updated: Friday, November 23, 2012, 17:34 [IST]
 

मुंबई। टीम इंडिया की नयी दीवार करार दिये गये युवा खिलाड़ी चेतेश्‍वर पुजारा ने इंग्‍लैंड के खिलाफ दूसरे टेस्‍ट में भी शानदार प्रदर्शन करते हुए अपने टेस्‍ट करियर का तीसरा शतक पूरा किया। गौरतलब है कि पुजारा ने अहमदाबाद में भी नाबाद 206 रनों की पारी खेली थी। पुजारा ने यह पारी ऐसे समय में खेली जब टीम इंडिया एक समय कम स्‍कोर पर सिमटती दिखाई दे रही थी। दिन का खेल खत्‍म होने तक भारत ने 6 विकेट पर 266 रन बना लिये हैं। इस समय पुजारा 114 और आर आश्विन 60 रन बनाकर खेल रहे थे।

पुजारा और आश्विन की पारी से भारत ने इंग्‍लैंड पर दबाव बनाया

आज टॉस जीतकर पहले बल्‍लेबाजी करते हुए भारत की शुरूआत अच्‍छी नहीं रही और गौतम गंभीर 4 रन बनाकर आउट हो गये। इसके बाद वीरेंद्र सहवाग 30 रनों पर मोंटी पनेसर की गेंद पर बोल्‍ड हो गये। सचिन तेंदुलकर को मोंटी पनेसर ने ही शानदार गेंद पर आउट कर दिया। दो बड़े विकेट खोने के बाद विराट कोहली ने पारी को संभालने की कोशिश की लेकिन वह भी 19 रन बनाकर आउट हो गये। युवराज सिंह बिना कोई रन बनाये आउट हो गये। कप्‍तान महेंद्र सिंह धोनी ने कुछ अच्‍छे शॉट खेले और 24 रन बनाये।

इंग्‍लैंड की तरफ से पिछले मैच में बाहर किये गये गेंदबाज मोंटी पनेसर सबसे सफल रहे, जिन्‍होने 91 रन देकर 4 विकेट लिये। इसके अलावा ग्रीम स्‍वान और जेम्‍स एंडरसन ने एक-एक विकेट लिया। दिन के पहले दो सत्रों को जहां इंग्‍लैंड की टीम ने अपने नाम किया वहीं आखिरी सत्र में भारत ने बेहतर प्रदर्शन किया और दिनभर में हुए नुकसान की भरपाई की। भारत के पूर्व कप्‍तान सौरव गांगुली के अनुसार अगर इस विकेट पर टीम इंडिया 300 रन बना लेती है तो टीम लाभ की स्थिति में होगी।

भारत की पारी में चेतेश्‍वर पुजारा ने टेस्‍ट कौशल, धैर्य और शॉट चयन का शानदार उदाहरण प्रस्‍तुत किया और शतक लगाया। पुजारा के अलावा आर आश्विन ही सर्वश्रेष्‍ठ स्‍कोरर रहे।

Story first published:  Friday, November 23, 2012, 16:30 [IST]
English summary
Cheteshwar Pujara struck his third Test century on the opening day of the India-England second Test here on Friday.
कमेंट लिखें