Englishಕನ್ನಡമലയാളംதமிழ்తెలుగు

रिकी पोंटिंग का सफर, आंकड़ों की जुबानी

Posted by:
     Published: Thursday, November 29, 2012, 12:57 [IST]
 

बैंगलोर। आस्‍ट्रेलिया के पूर्व महान कप्‍तान और‍ खिलाड़ी रिकी पोंटिंग ने टेस्‍ट क्रिकेट से सन्‍यास की घोषणा कर दी है। रिकी ने अपने कॅरियर का आगाज 1995 में पर्थ में श्रीलंका के खिलाफ 17 वर्ष की उम्र में किया था। वह टेस्‍ट क्रिकेट इतिहास के एक मात्र ऐसे खिलाड़ी हैं जिन्‍होने 100 से अधिक टेस्‍ट जीत में टीम में मौजूदगी दर्ज करवायी है।

रिकी पोंटिंग का सफर, आंकड़ों की जुबानी

क्रिकेट आस्‍ट्रेलिया के अनुसार वह क्रिकेट के महान खिलाडि़यों में से एक है और टेस्‍ट में 13000 रन बनाने के अलावा आस्‍ट्रेलिया की तरफ से सर्वाधिक रन बनाने वाले खिलाड़ी हैं। रिकी ने तस्‍मानिया की तरफ से नवंबर 1992 में प्रथम श्रेणी करियर का प्रारम्‍भ किया था।

रिकी पोंटिंग आस्‍ट्रेलिया के 42वें टेस्‍ट कप्‍तान हैं जिन्‍हें स्‍टीव वॉ की कप्‍तानी के बाद 2004 में कप्‍तान का पद सौंपा गया था। जनवरी 2005 में पाकिस्‍तान के खिलाफ 207 रनों की पारी खेलने के साथ ही वह आस्‍ट्रेलिया के एकमात्र ऐसे खिलाड़ी बन गये थे जिसने टेस्‍ट में चार से ज्‍यादा दोहरे शतक लगाये हैं।

167 टेस्‍ट मैचों में रिकी पोंटिंग ने 41 शतक, 62 अर्द्धशतक लगाये हैं जिसमें उन्‍होने 6 दोहरे शतक भी लगाये हैं।

रिकी पोंटिंग, एलन बॉर्डर के अलावा ऐसे कप्‍तान रहे हैं जिनकी कप्‍तानी में आस्‍ट्रेलिया को एशेज में हार का सामना करना पड़ा।

रिकी पोंटिंग ने अपने सौवें टेस्‍ट की दोनों ही पारियों में शतक लगाया है।

रिकी पोंटिंग की कप्‍तानी में आस्‍ट्रेलिया ने विश्‍वकप में लगातार 34 मैच जीतने का अविश्‍वसनीय रिकॉर्ड बनाया।

अपने पहले ही टेस्‍ट में उन्‍होने 96 रन बनाये हैं।

रिकी पोंटिंग को मिले सम्‍मान

विस्‍डन लीडिंग क्रिकेटर इन द वर्ल्‍ड (2009)

एलन बॉर्डर मेडल (2004)

सर गॉरफील्‍ड सोबर्स ट्रॉफी (2006-2007)

कॉम्‍पन - मिलर मेडल (एशेज- मैन ऑफ द सीरीज 2006-2007)

एलन बॉर्डर मेडल (2009)

English summary
Ricky Ponting was a great batsman of Australia, see here his glorious career in stats.
कमेंट लिखें