Englishಕನ್ನಡമലയാളംதமிழ்తెలుగు

अगर मैं तेंदुलकर होता तो अब तक सन्‍यास ले लेता: सौरव गांगुली

Posted by:
     Updated: Tuesday, December 11, 2012, 10:32 [IST]
 

नई दिल्‍ली। अपनी कप्‍तानी में टीम इंडिया का कायापलट करने वाले भारत के पूर्व कप्‍तान सौरव गांगुली ने सचिन तेंदुलकर की आलोचना करते हुए कहा है कि अगर मैं सचिन तेंदुलकर होता तो अब तक सन्‍यास ले लेता। यह पहला मौका है जब सौरव ने सचिन के सन्‍यास के बारे में खुलकर बोला है, साथ ही उन्‍होने यह भी कहा कि यह सही समय है जब सचिन को अपने भविष्‍य का फैसला करना चाहिए। गौरतलब है कि इंग्‍लैंड के खिलाफ सीरीज की पिछली पांच पारियों में केवल 110 रन बनाने वाले सचिन ने पिछले दो वर्षों से एक भी शतक नहीं लगाया है और लगातार संघर्ष कर रहे है।

अगर मैं तेंदुलकर होता तो अब तक सन्‍यास ले लेता: सौरव गांगुली

इंग्‍लैंड के खिलाफ नागपुर में होने वाले चौथे टेस्‍ट मैच में युवराज, हरभजन और जहीर को न शामिल करने पर सौरव ने कहा कि चयनकर्ताओं को सचिन पर भी निर्णय लेना चाहिए था लेकिन मुझे लगता है कि सचिन ने अब तक जो भी किया है, उससे चयनकर्ता अब भी उनकी क्षमताओं पर यकीन रखते हैं। ऐसे में यह जरूरी है कि सचिन रन बनाये और जल्‍द ही अपने भविष्‍य पर निर्णय लें।

सौरव ने कहा कि हम सभी सचिन को अच्‍छे प्रदर्शन के साथ ही खेल को अ‍लविदा कहते हुए देखना चाहते हैं न कि संघर्ष करते हुए। अगर मैं सचिन होता तो अब तक सन्‍यास की घोषणा कर चुका होता क्‍यों‍कि सचिन को इस तरह से संघर्ष करते हुए कोई भी नहीं देखना चाहेगा।

बीसीसीआई ने भी आखिरी टेस्‍ट के लिए टीम में कुछ बदलाव किये हैं लेकिन बड़े निर्णय लेने से बचने की कोशिश की है, सचिन और धोनी ने भी खराब प्रदर्शन किया है लेकिन वह अब भी टीम में बने हुए हैं। इंगलैंड के साथ जारी वर्तमान सीरीज में टीम इंडिया 2-1 से पीछे हैं। अगर अंतिम टेस्‍ट को ब्रिटिश टीम ड्रा कराने में भी सफल हो जाती है तो वह लम्‍बे समय बाद भारत में सीरीज जीतने में कामयाब हो जाएगी।

Read in English

Story first published:  Monday, December 10, 2012, 12:43 [IST]
English summary
Former India skipper Sourav Ganguly has criticized struggling Sachin Tendulkar and said that it was time for the master blaster to take a call on his future.
कमेंट लिखें