Englishಕನ್ನಡമലയാളംதமிழ்తెలుగు

भारतीय खिलाडि़यों में योग्‍यता नहीं है: राहुल द्रविड़

Posted by:
     Published: Tuesday, December 11, 2012, 14:56 [IST]
 

भारतीय खिलाडि़यों में योग्‍यता नहीं है: राहुल द्रविड़
 

लंदन। कोलकाता और मुंबई में लगातार टेस्‍ट मैच हारने के बाद टीम इं‍डिया की चौतरफा निंदा हो रही है। भारत के इस प्रदर्शन पर राहुल द्रविड़ का कहना है कि टीम का हारना कोई बड़ी बात नहीं है बल्कि जिस तरह से टीम प्रदर्शन कर रही है वह शर्मनाक है, मुंबई और कोलकाता टेस्‍ट में स्थितियां हमारे अनुकूल थी लेकिन हम उनका लाभ नहीं ले सके जबकि इंग्‍लैंड के खिलाडि़यों ने भारतीय हालातों का फायदा उठाया। राहुल ने कहा कि स्पिन जोड़ी के खराब प्रदर्शन से मैं निराश हूं मुंबई टेस्‍ट में जिस विकेट पर स्‍वान और पनेसर ने विकेट लिये उसी विकेट पर प्रज्ञान ओझा और आर आश्विन असफल रहे।

आईपीएल के कारण खिलाडि़यों के प्रदर्शन पर पड़ने वाले प्रभाव पर द्रविड़ का कहना है कि खिलाडि़यों का फोकस आईपीएल है क्‍योंकि इसमें काफी पैसा है, यह सिक्‍के का सिर्फ एक ही पहलू है, दूसरा पहलू यह है कि खिलाडि़यों में काबिलियत और हुनर की कमी है, जो‍ कि मेरी चिंता का विषय है। खिलाडि़यों में वह योग्‍यता नहीं है जो टेस्‍ट खेलने के लिए होनी चाहिए। उन्‍होने घरेलू क्रिकेट के बारे में कहा कि हमारे पास वैसा खेल ढ़ाचा नहीं है कि खिलाड़ी अन्‍तर्राष्‍ट्रीय स्‍तर पर आते ही अच्‍छा प्रदर्शन कर सकें।

टीम के प्रदर्शन की निंदा करते हुए उन्‍होने कहा कि हार जीत खेल का हिस्‍सा है लेकिन हम जिस तरह से अपने अनुकूल हालातों में हार रहे हैं वह शर्मनाक है और खिलाडि़यों की वर्तमान फॉर्म कोई अच्‍छा संकेत भी नही दे रही है। इंग्‍लैंड से इस हार ने हमें एक आइना भी दिखा दिया है कि कोई भी टीम तभी सफल हो सकती है जब सर्वश्रेष्‍ठ खिलाड़ी एक साथ मिलकर अच्‍छा प्रदर्शन करें।

हालां‍कि इस महान खिलाड़ी ने यह भी कहा कि टीम इस समय बदलाव के दौर से गुजर रही है। टीम की कोशिश ऐसे खिलाडि़यों को शामिल करने की होनी चाहिए जिनमें कौशल, प्रतिभा और खेलने की इच्‍छा हो। मेरे ख्‍याल से इंडिया 'ए' का टूर और एकेडमी प्रणाली इसमें काफी योगदान दे सकती है।

English summary
Former Indian captain Rahul Dravid criticized Team India and said players are not skilled.
कमेंट लिखें