Englishಕನ್ನಡമലയാളംதமிழ்తెలుగు

बल्‍लेबाज फेल, पाकिस्‍तान ने भारत को फिर हराया

Posted by:
     Updated: Friday, January 4, 2013, 10:16 [IST]
 

कोलकाता। ईडेन गार्डेन के ऐतिहासिक मैदान पर पाकिस्‍तान ने अजेय रहते हुए टीम इंडिया को एकदिवसीय सीरीज के दूसरे मैच में भारत को 85 रनों से हरा दिया है। इसके साथ ही पाकिस्‍तान ने सीरीज में 2-0 की अजेय बढ़त ले ली है। पाकिस्‍तान ने 2005 के बाद भारत में पहली सीरीज जीती है। सन 2007 में भारत आयी पाक टीम को 3-2 से हार का सामना करना पड़ा था।

सीरीज के दूसरे मैच में नासिर जमशेद के शतक और गेंदबाजो के सम्मिलित प्रयासों से भारत 251 के आसान से दिखने वाले लक्ष्‍य को नहीं प्राप्‍त कर सका। पाक की तरफ से जुनैद खान, सईद अजमल ने तीन-तीन और उमर गुल ने दो विकेट लिये। मोहम्‍मद हफीज ने 10 ओवरों में एक विकेट लेकर 29 रन दिये।

देखें स्‍कोरकार्ड

बल्‍लेबाज फेल, पाकिस्‍तान ने भारत को फिर हराया

इसके पहले टीम इंडिया के कप्‍तान महेंद्र सिंह धोनी ने टॉस जीतकर पहले फी‍ल्डिंग करने का निर्णय लिया जिसे उनके गेंदबाजों ने सही साबित किया और पाक टीम को 250 रनों पर आल आउट कर दिया। हालांकि शानदार शुरूआत करते हुए पाकिस्‍तान के सलामी बल्‍लेबाज नासिर जमशेद और मोहम्‍मद हफीज ने पाकिस्‍तान को अच्‍छी शुरूआत दी और पहले विकेट के लिए 141 रन जोड़े। लेकिन टीम इंडिया के गेंदबाजों ने बेहतरीन प्रदर्शन करते हुए पाक को 300 के लक्ष्‍य तक नहीं पहुंचने दिया।

पाकिस्‍तान की तरफ से जमशेद ने भारत के खिलाफ लगातार दूसरा शतक लगाया। हफीज ने 76 रन बनाये। इसके अलावा पाक का कोई भी बल्‍लेबाज अच्‍छा स्‍कोर नहीं कर सका। अजहर अली ने 2, यूनिस खान ने 10, मिस्‍बाह उल ह‍क ने 2, शोएब मलिक ने 24, कामरान अकमल 0, उमर गुल 11 और सईद अजमल ने 7 रन बनाये। भारत की तरफ से रवींद्र जडेजा और ईशांत शर्मा ने तीन-तीन, भुवनेश्‍वर, आर आश्विन और सुरेश रैना ने एक-एक विकेट लिया।

लक्ष्‍य का पीछा करते हुए भारत के सलामी बल्‍लेबाजों ने सधी हुई शुरूआत की लेकिन गौतम गंभीर के आउट होने के बाद एक के बाद एक विकेट गिरते गये। टीम इंडिया के बल्‍लेबाजों का रवैया देखकर यही कहा जा सकता है कि उन्‍होने चेन्‍नई से मिली हार से कोई सबक नहीं लिया।

गंभीर ने 11, सहवाग ने 31, विराट कोहली ने 6, युवराज ने 9, रैना ने 18, आर आश्विन ने 3, रवींद्र जडेजा ने 13 रन बनाये। लगातार गिरते विकेटों के बीच धोनी और रैना की जोड़ी ने विकेट पर टिकने का जज्‍बा दिखाया। लेकिन वह कुछ खास न कर सके। कप्‍तान धोनी ही 54 रनों के साथ सर्वश्रेष्‍ठ स्‍कोर बनाने वाले रहे।

इस मैच में जहां गेंदबाजों ने अपनी भूमिका के साथ न्‍याय किया वहीं बल्‍लेबाजों ने लापरवाही भरा रवैया अपनाया। टीम का प्रदर्शन देखकर तो यही कहा जा सकता है कि बल्‍लेबाजों में जीतने की इच्‍छा ही नहीं थी। खराब फार्म का सामना कर रहे सहवाग सिर्फ टीम में अपनी जगह बनाये रखने की कोशिश में हैं वहीं गंभीर भी अपनी गलतियां दोहरा रहे हैं। कोलकाता की जिस पिच पर नासिर जमशेद ने शतक बनाया वहां भारत के बल्‍लेबाज विकेट पर रूकने के लिए संघर्ष करते रहे। पाकिस्‍तान की इस जीत के साथ ही उसका ईडेन गार्डेन में अजेय रहने का रिकॉर्ड भी बरकरार रहा। पाकिस्‍तान की टीम ने 1987 के बाद यहां पर भारत से कोई मैच नहीं हारा है।

Story first published:  Friday, January 4, 2013, 10:10 [IST]
English summary
Pakistan defeated India by 85 runs. With this victory Pakistan take an unassailable 2-0 lead in the three-match One Day International series.
कमेंट लिखें