Englishಕನ್ನಡമലയാളംதமிழ்తెలుగు

टीम इंडिया सचिन तेंदुलकर के बिना खेलने की आदी हो गयी है: सौरव गांगुली

Posted by:
     Published: Monday, January 14, 2013, 15:25 [IST]
 

टीम इंडिया सचिन तेंदुलकर के बिना खेलने की आदी हो गयी है: सौरव गांगुली
 

कोलकाता। भारत के पूर्व कप्‍तान सौरव गांगुली ने पत्रकारों से बातचीत के दौरान टीम इंडिया से जुड़े कई मुद्दों पर बात की। उन्‍होने एकदिवसीय क्रिकेट से सचिन के सन्‍यास लेने के बारे में कहा कि अब टीम को सचिन के बिना खेलने की आदत हो गयी है और वह पिछले काफी समय से वनडे टीम का हिस्‍सा नहीं थे अत: वनडे में सचिन की कमी महसूस नहीं होगी। हालांकि टेस्‍ट मैंचों से सचिन के सन्‍यास लेने के बाद टीम की मुश्किलें बढ़ेंगी। सौरव ने कहा कि अगले एक डेढ़ साल में भारत को 15 टेस्‍ट मैच खेलने हैं। अगर सचिन बेहतर नहीं कर पाते हैं तो भारत के लिए काफी मुश्किल होगा।

टीम के वर्तमान प्रदर्शन पर बात करने पर इस पूर्व कप्‍तान का कहना है कि टीम अभी बदलाव के दौर से गुजर रही है। मैदान के बाहर बैठ कर टीम की आलोचना करना आसान काम होता है। उन्‍होने धोनी का समर्थन करते हुए कहा कि हर कप्‍तान के साथ ऐसा होता है, हर किसी के करियर में ये दौर आता है। सुरेश रैना, विराट कोहली, चेतेश्‍वर पुजारा को टीम में स्‍थापित होने में कुछ वक्‍त लगेगा। जब मैं कप्‍तान था तो सचिन तेंदुलकर, वीवीएस लक्ष्‍मण और राहुल द्रविड़ को खुद को स्‍थापित करने में वक्‍त लगा था। उन्‍होने धोनी को संयम बरतने की सलाह दी और कहा कि वह दो वर्षों के समय में कुछ अच्‍छा करेंगे।

चेतेश्‍वर पुजारा को एकदिवसीय टीम में चुने जाने पर सौरव ने कहा कि वह भले ही अभी प्‍लेइंग इलेवन का हिस्‍सा न हो पर जल्‍द ही वह वनडे टीम में अपनी जगह पक्‍की करेंगे। सौरव के अनुसार टीम से बाहर किये गये वीरेंद्र सहवाग और हरभजन सिंह को जल्‍द ही टीम में फिर शामिल किया जायेगा। रोहित शर्मा और विराट के‍ लिए सौरव ने कहा कि इन खिलाडि़यों को अभी और मौका दिया जाना चाहिए। विराट ने पिछले 18 महीनों में शानदार प्रदर्शन किया है और फार्म में इस तरह के उतार चढ़ाव तो आते ही रहते हैं।

English summary
Under-fire India captain MS Dhoni on Sunday got a bit of backing from former skipper Sourav Ganguly who said the team has to cope up with this transition phase.
कमेंट लिखें