Englishಕನ್ನಡമലയാളംதமிழ்తెలుగు

कोहली और गंभीर के लिए खतरा हैं तिवारी और पुजारा

Posted by:
     Published: Thursday, January 17, 2013, 17:46 [IST]
 

कोहली और गंभीर के लिए खतरा हैं तिवारी और पुजारा
 

बैंगलोर। इंग्‍लैंड से जारी वर्तमान सीरीज में और इसके पहले पाकिस्‍तान के खिलाफ बेहतर प्रदर्शन करने में असफल रहे गौतम गंभीर और विराट कोहली को चयनकर्ता बाहर का रास्‍ता दिखा सकते हैं क्‍योंकि यह दोनों ही खिलाड़ी अपनी ख्‍याति के अनुरूप प्रदर्शन करने में असफल रहे हैं। चेतेश्‍वर पुजारा को पहले ही वनडे टीम में चुन लिया गया है लेकिन अभी तक उन्‍हें मौका नहीं दिया गया है। ऐसी संभावना जताई जा रही है कि उन्‍हें तीसरे वनडे के बाद मौका दिया जा सकता है।

पिछले चार एकदिवसीय मैचों में गंभीर ने 21.50 के औसत से 86 रन जोड़े हैं। इस दौरान उनका उच्‍चतम स्‍कोर 52 रन रहा है। अगर पिछली नौ पारियों की बात करें तो उन्‍होने 16, 17, 43, 21, 8, 11, 15, 52 और 8 रन बनाये हैं। वीरेंद्र सहवाग के खराब फार्म के कारण ही उन्‍हें भी एकदिवसीय टीम से बाहर किया गया है और अब मनोज तिवारी को मौका दिये जाने की बात की जा रही है।

गंभीर के अलावा विराट कोहली का पिछला प्रदर्शन बेहद खराब रहा है। उन्‍होने अपनी पिछली आठ पारियों में क्रमश: 38, 9, 27, 0, 6, 7, 15 और 37 रन बनाये हैं। टीम से जुड़े लोग विराट को आराम करने की भी सलाह दे रहे हैं उनका कहना है कि विराट को कुछ समय के लिए अन्‍तर्राष्‍ट्रीय क्रिकेट से विश्राम लेना चाहिए, क्‍योंकि आने वाले वक्‍त में टीम इंडिया को आस्‍ट्रेलिया से चार टेस्‍ट मैचों की महत्‍वपूर्ण सीरीज खेलनी है।

वहीं चेतेश्‍वर पुजारा और मनोज तिवारी घरेलू क्रिकेट में लगातार बेहतर प्रदर्शन कर रहे हैं और अपनी बारी का इंतजार कर रहे हैं। इस पर भारत के पूर्व कप्‍तान सौरव गांगुली का भी कहना है कि मनोज तिवारी को टीम में शामिल किया जाना चाहिए। उन्‍होने अशोक डिंडा को भी टीम में शामिल किये जाने की वकालत की थी। डिंडा ने अपने चयन को सही साबित करते हुए बेहतर प्रदर्शन‍ किया है और टीम को जहीर खान की कमी महसूस नहीं होने दी है। 

English summary
With the likes of Manoj Tiwary and Cheteshwar Pujara also playing well, will the struggling Virat Kohli and Gautam Gambhir make way for the talented youngsters?
कमेंट लिखें