Englishಕನ್ನಡമലയാളംதமிழ்తెలుగు

कभी नहीं सोंचा कि देश के लिए खेलूंगा: धोनी

Posted by:
     Updated: Wednesday, February 27, 2013, 11:51 [IST]
 

चेन्‍नई। आस्‍ट्रेलिया के खिलाफ दोहरा शतक लगाने वाले भारत के कप्‍तान महेंद्र सिंह धोनी का कहना है कि मैनें कभी नहीं सोंचा था कि मैं एक दिन देश के लिए खेलूंगा लेकिन मैं दोहरा शतक लगाकर खुश हूं। धोनी का कहना है‍ सचिन तेंदुलकर और चेतेश्‍वर पुजारा के बीच हुई पार्टनरशिप काफी महत्‍वपूर्ण सा‍बित हुई जिसके बाद हमें मैच में वापसी करने का मौका मिला। धोनी ऐसे समय क्रीज पर आये थे जब भारत के चार विकेट 194 रनों पर आउट हो चुके थे।

आस्‍ट्रेलिया के खिलाफ पहला टेस्‍ट मैच जीतने के साथ ही धोनी ने बतौर कप्‍तान, सौरव गांगुली के रिकॉर्ड की बराबरी कर ली है। उनकी कप्‍तानी में अब तक भारत ने 21 टेस्‍ट मैचों में जीत दर्ज की है। धोनी ने अब तक 44 टेस्‍ट मैचों में भारत की कप्‍तानी की है जिसमें 12 मैचों में टीम इंडिया को हार का सामना करना पड़ा है और 11 टेस्‍ट ड्रा रहे हैं वहीं सौरव की कप्‍तानी में टीम इंडिया ने 49 टेस्‍ट मैच खेले हैं जिसमें से टीम को 21 में जीत 13 में हार का सामना करना पड़ा है और 15 टेस्‍ट मैच ड्रा रहे हैं।

कभी नहीं सोंचा कि देश के लिए खेलूंगा: धोनी

महेंद्र सिंह धोनी

अब तक टी20 विश्‍वकप और फिर वनडे विश्‍वकप जीतने के साथ ही धोनी भारत के सबसे सफल कप्‍तान बन गये है। दुनिया के कई पूर्व क्रिकेटर धोनी की नेतृत्‍व क्षमता के कायल हैं। पहले टेस्‍ट में हार के बाद आस्‍ट्रेलिया के कप्‍तान माइकल क्‍लार्क ने कहा कि धोनी की पारी ने मैच में एक बड़ा फर्क पैदा किया और हमें खेल के हर विभाग में पीछे छोड़ दिया, यह एक अविश्‍वसनीय पारी थी।

चेन्‍नई टेस्‍ट में धोनी के प्रदर्शन के बाद उन्‍हें टेस्‍ट मैचों से बतौर कप्‍तान हटाये जाने की मांग भी कम हो गयी हैं। इसके पहले इंग्‍लैंड और आस्‍ट्रेलिया के खिलाफ क्‍लीन स्‍वीप होने से उनको कप्‍तानी से हटाये जाने की मांग उठने लगी थी।

Read in English

Story first published:  Wednesday, February 27, 2013, 11:49 [IST]
English summary
India captain MS Dhoni was on Tuesday modest in admitting that he never dreamt of playing for the country, leave aside scoring a double hundred in Test cricket ever in his career.
कमेंट लिखें