Englishಕನ್ನಡമലയാളംதமிழ்తెలుగు

जडेजा और भुवनेश्‍वर ने भारत को मजबूत स्थिति में पहुंचाया

Posted by:
     Published: Saturday, March 2, 2013, 18:05 [IST]
 

हैदराबाद। दूसरे टेस्‍ट मैच में भुवनेश्‍वर कुमार ने गेंदबाजी में भारत की अगुवाई करते हुए आस्‍ट्रेलिया के तीन शुरूआती विकेट लेकर आस्‍ट्रेलिया को रक्षात्‍मक होने पर मजबूर कर दिया। जिसके बाद हरभजन और रवींद्र जडेजा की अनुशासित गेंदबाजी से 237 रन पर 9 विकेट गिर जाने से आस्‍ट्रेलिया ने इसी स्‍कोर पर आश्‍चर्यजनक रूप से पारी घोषित कर दी। हरभजन ने दो और जडेजा ने तीन विकेट लिये। वहीं चेन्‍नई टेस्‍ट में 12 विकेट लेने वाले आर आश्विन को एक सफलता मिली।

आस्‍ट्रेलिया ने भारत पर दबाव बनाने के लिए दिन के अ‍ाखिर में तीन ओवर भी किये लेकिन कंगारू टीम को कोई सफलता नहीं मिली। दिन का खेल खत्‍म होने तक भारत का स्‍कोर तीन ओवरों में पांच रन था। आज सुबह आस्‍ट्रेलिया ने टॉस जीतकर पहले बल्‍लेबाजी का फैसला किया। भुवनेश्‍वर ने दोनों कंगारू ओपनरों डेविड वार्नर और एडवर्ड कोवान को जल्‍द ही पवेलियन वापस भेज दिया।

जडेजा और भुवनेश्‍वर ने भारत को मजबूत स्थिति में पहुंचाया

63 रन पर चार विकेट गिर जाने से ऐसा लग रहा था कि भ्रमणकारी टीम की पारी जल्‍द ही समाप्‍त हो जाएगी तो ऐसे में कप्‍तान माइकल क्‍लॉर्क ने विकेटकीपर मैथ्‍यू वेड के साथ साझेदारी करते हुए पांचवे विकेट के लिए 145 रन जोड़े। इन दोनों ने लंच और टी ब्रेक के बीच कोई और विकेट नहीं गिरने दिया। माइकल क्‍लार्क ने जुझारू पारी खेलते हुए 186 गेंदों में नौ चौकों और एक छक्‍के की मदद से 91 रन बनाये, वहीं मैथ्‍यू वेड ने 62 रन बनाये।

इसके बाद आस्‍ट्रेलिया का कोई भी खिलाड़ी टिककर नहीं खेल सका। डेविड वार्नर ने 6, एडवर्ड कोवान ने 4 और शेन वाटसन ने 23 रन बनाये। भारत ने इस मैच में अपनी पकड़ बना ली है। क्रिकेट विशेषज्ञों ने ऐसे विकेट पर टॉस जीतकर पहले बल्‍लेबाजी करने के आस्‍ट्रेलिया के फैसले की निंदा की।

English summary
India called the shots on the opening day of the second Test against Australia here at Rajiv Gandhi International Stadium on Saturday.
कमेंट लिखें