Englishಕನ್ನಡമലയാളംதமிழ்తెలుగు

भारत के लिए सचिन का होना एक बड़ा एडवांटेज है: हेनरिक्‍स

Posted by:
     Published: Tuesday, March 12, 2013, 12:07 [IST]
 

मोहाली। आस्‍ट्रेलियाई ऑल राउंडर मोइसिस हेनरिक्‍स का मानना है कि तीसरे टेस्‍ट मैच में वापसी करना उनकी टीम के लिए आसान नहीं होगा, लेकिन साथ ही उन्‍होने यह भी कहा है कि हमने अपनी गलतियों से सीखा है और सकारात्‍मक होकर वापसी के प्रयास करेंगे। अपनी टीम की आगे की प्‍लानिंग के बारे में मोइसिस ने कहा है दूसरे और तीसरे टेस्‍ट मैचों के बीच कई दिनों का गैप होने से हमें फिर से खुद को तैयार करने में मदद मिली है।

टीम इंडिया की प्रशंसा करते हुए हेनरिक्‍स का कहना है सचिन तेंदुलकर और महेंद्र सिंह धोनी जैसे सीनियर खिलाडि़यों के होने से यह टीम मजबूत है। हेनरिक्‍स का मानना है कि सचिन तेंदुलकर के टीम में होने से बड़ा फर्क पड़ता है और वह भारत के लिए बड़ा एडवांटेज हैं। उन्‍होने हरभजन और आश्विन की प्रशंसा करते हुए कहा कि उन्‍होने अपने घरेलू हालात का बेहतर ढंग से फायदा उठाया। यह दोनों ही कमाल के गेंदबाज है।

आस्‍ट्रेलियाई क्रिकेट टीम के मुख्‍य खिलाड़ी शेन वाटसन और मिशेल जानसन और पैटिनसन जैसे खिलाडि़यों के अगले टेस्‍ट से बाहर हो जाने से आस्‍ट्रेलिया के लिए अब मुश्किलें बढ़ गयी है, इन खिलाडि़यों को अनुशासनात्‍मक कार्यवाहियों के चलते टीम से बाहर किया गया है। जिससे नाराज शेन वाटसन आस्‍ट्रेलिया वापस जा रहे हैं।

टीम मैनेजमेंट और पूर्व खिलाडि़यों ने कोच और कप्‍तान के इस निर्णय की निंदा की है और कहा है कि ऐसे समय जब टीम को अच्‍छे खिलाडि़यों की सख्‍त जरूरत है तो उन्‍हें बाहर किया जाना सही नहीं है। पूर्व कप्‍तान एलन बॉर्डर ने कहा है कि यह कोई स्‍कूल क्रिकेट टीम नहीं है। हम पहले से ही सीरीज में 2-0 से पीछे चल रहे हैं अत: इस तरह के निर्णय नहीं लिये जाने चाहिए। एक कोच को हमेशा ही अपने खिलाडि़यों को बेहतर करने के लिए प्रेरित करना चाहिए।

English summary
Moises Henriques said that India is lucky to have the experience of senior players such as MS Dhoni and Sachin Tendulkar and it would be a big challenge for Australia to make a come back in the third Test.
कमेंट लिखें