Englishಕನ್ನಡമലയാളംதமிழ்తెలుగు

चैम्पियंस ट्रॉफी : इंग्लैंड पर जीत के साथ श्रीलंका दौड़ में कायम

     Published: Friday, June 14, 2013, 10:00 [IST]
 

लंदन। कुमार संगकारा (नाबाद 134) की शतकीय पारी की बदौलत श्रीलंका क्रिकेट टीम ने केनिंग्टन ओवल मैदान पर गुरुवार को खेले गए आईसीसी चैम्पियंस ट्रॉफी-2013 मुकाबले में इंग्लैंड को सात विकेट के हराकर खुद को सेमीफाइनल की दौड़ में बनाए रखा है। संगकारा को मैन ऑफ द मैच चुना गया। टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करते हुए इंग्लैंड ने श्रीलंका के सामने 294 रनों का लक्ष्य रखा, जिसे उसने 47.1 ओवरों में तीन विकेट खोकर हासिल कर लिया। संगकारा ने 135 गेंदों का सामना करते हुए 12 चौके लगाए जबकि नुवान कुलासेकरा 38 गेंदों पर तीन छक्कों और पांच चौकों की मदद से 58 रन बनाकर नाबाद लौटे।

कुलासेकरा और संगकारा ने चौथे विकेट के लिए नाबाद 110 रन जोड़े। इसमें संगकारा के 44 और कुलासेकरा के 58 रन शामिल हैं। संगकारा ने इससे पहले तिलकरत्ने दिलशान (44) के साथ दूसरे विकेट के लिए 92 और कप्तान माहेला जयवर्धने (42) के साथ तीसरे विकेट के लिए 85 रन जोड़े थे।

देखें स्‍कोरकार्ड

चैम्पियंस ट्रॉफी : इंग्लैंड पर जीत के साथ श्रीलंका दौड़ में कायम

दिलशान ने 56 गेंदों की पारी में तीन चौके और एक छक्का लगाया। जयवर्धने ने 43 गेंदों पर तीन चौके और एक छक्का उड़ाया। इंग्लैंड की ओर से जेम्स एंडरसन ने दो विकेट लिए जबकि चोट से उबरने के बाद वापसी कर रहे ग्रीम स्वान ने एक सफलता हासिल की। इस जीत ने श्रीलंका के खाते में दो अंक डाले। वह दो मैचों से दो अंक लेकर ग्रुप-ए की तालिका में तीसरे क्रम पर है जबकि न्यूजीलैंड ने भी इतने ही मैचों से तीन अंक लेकर पहला स्थान बनाए रखा है। इंग्लैंड के भी दो मैचों से दो अंक हैं। आस्ट्रेलिया दो मैचों से सिर्फ एक अंक जुटा सका है। इस ग्रुप से न्यूजीलैंड का अगले दौर में पहुंचना तय है लेकिन शेष एक स्थान के लिए तीन टीमों के बीच टक्कर है।

इससे पहले, पारी की शुरूआत में इंग्लैंड ने धीमी गति से रन बनाए, जिससे श्रीलंका का पहले गेंदबाजी करने का फैसला सही साबित होता लग रहा था, लेकिन पिछले मैच में बेहतरीन पारी खेलने वाले इयान बेल (20) का विकेट खोने के बाद इंग्लैंड ने श्रीलंका के इस फैसले को गलत साबित कर दिया, तथा रही-सही कसर अंतिम ओवरों में रवि बोपारा ने पूरी कर दी। शीर्ष बल्लेबाजों के सधे हुए प्रदर्शन और आखिरी ओवर में बोपारा द्वारा जुटाए गए 28 रनों की बदौलत इंग्लैंड निर्धारित 50 ओवरों में सात विकेट पर 293 रनों का संघर्ष करने लायक बढ़िया स्कोर खड़ा करने में कामयाब रहा।

बेल को छोड़कर इंग्लैंड के शीर्ष तीन बल्लेबाजों ने अर्धशतकीय पारियां खेलीं। सलामी बल्लेबाज एवं कप्तान एलिस्टर कुक ने 59, जोनाथन ट्रॉट ने 76 तथा जोए रूट ने 68 रनों का योगदान दिया। ट्रॉट और रूट ने जहां पांच-पांच चौके लगाए वहीं कुक ने तीन चौके जड़े। रूट जब 46वें ओवर की तीसरी गेंद पर जयवर्धने के हाथों कैच आउट हुए तब तक इंग्लैंड का स्कोर 249 रन हो चुका था और इंग्लैंड के हाथ में छह विकेट शेष थे।

रूट के जाने के बाद हालांकि लसिथ मलिंगा ने अगली ही गेंद पर इयान मोर्गन को पगबाधा कर दिया, और अगले दोनों (47वें एवं 48वें) ओवर में तीन-तीन रन ही बने, लेकिन आठवें विकेट की साझेदारी में स्टूअर्ट ब्रॉड (नाबाद 7) के साथ बोपारा (नाबाद 33) ने अंतिम दो ओवरों में 38 रन बटोरकर इंग्लैंड को 293 के सम्मानजनक स्कोर तक पहुंचा दिया। श्रीलंका की तरफ से मलिंगा, शर्मिडा इरांगा तथा रंगना हेराथ ने दो-दो विकेट हासिल किए तथा नुवान कुलशेकरा को एक मिला।

English summary
Kumar Sangakkara's magnificent unbeaten century powered Sri Lanka to a convincing 7-wicket victory over England in a Group A match of the Champions Trophy here on Thursday.
कमेंट लिखें