Englishಕನ್ನಡമലയാളംதமிழ்తెలుగు

चैम्पियंस ट्रॉफी : आस्ट्रेलिया को हराकर श्रीलंका सेमीफाइनल में पहुंचा

     Updated: Tuesday, June 18, 2013, 10:18 [IST]
 

लंदन। श्रीलंका ने सोमवार को द ओवल क्रिकेट मैदान पर खेले गए अहम मुकाबले में आस्ट्रेलिया को 20 रनों से हराकर आईसीसी चैम्पियंस ट्रॉफी के अंतिम संस्करण के सेमीफाइनल में जगह बना ली है। ग्रुप-ए से श्रीलंका के अलावा इंग्लैंड सेमीफाइनल में पहुंचा है जबकि आस्ट्रेलिया के अलावा न्यूजीलैंड को बाहर का रास्ता देखना पड़ा है। श्रीलंका ने आस्ट्रेलिया के सामने जीत के लिए 254 रनों का लक्ष्य रखा था लेकिन नुवान कुलासेकरा (3 विकेट) के नेतृत्व में उसके गेंदबाजों ने जोरदार प्रदर्शन करते हुए आस्ट्रेलिया को 42.3 ओवरों में 233 रनों पर सीमित कर दिया। कुलासेकरा के अलावा रंगना हेराथ ने दो विकेट लिए जबकि शमिंदा इरांगा, लसिथ मलिंगा, तिलकरत्ने दिलशान और एंजेलो मैथ्यूज ने एक-एक सफलता हासिल की।

इस जीत के बाद श्रीलंका के खाते में कुल चार अंक हो गए। इंग्लैंड के भी इतने ही अंक हैं लेकिन श्रीलंकाई टीम का नेट रन रेट इंग्लैंड के दोयम है और इसी कारण उसे अपने ग्रुप में दूसरे क्रम पर रहते हुए सेमीफाइनल में स्थान मिला। ग्रुप-बी में भारत शीर्ष पर रहा और अब 20 जून को कार्डिफ में श्रीलंका का सामना भारत से होगा और पहले सेमीफाइनल में 19 जून को लंदन में दक्षिण अफ्रीका का सामना इंग्लैंड के साथ होगा। फाइनल 23 जून को बर्मिघम में होगा।

देखें स्‍कोरकार्ड

चैम्पियंस ट्रॉफी : आस्ट्रेलिया को हराकर श्रीलंका सेमीफाइनल में पहुंचा

श्रीलंकाई गेंदबाजों के सधे प्रदर्शन के आगे आस्ट्रेलिया का एक भी बल्लेबाज अर्धशतक तक नहीं लगा सका। एक समय आस्ट्रेलिया ने 80 रनों के कुल योग पर पांच विकेट गंवा दिए थे लेकिन इसके बाद एडम वोग्स (49) ने सबसे बड़ी पारी खेली तथा मैथ्यू वेड (31) और जेम्स फॉल्कनर (17) के साथ उपयोगी साझेदारियां निभाईं। इनके अलावा ग्लेन मैक्सवेल ने 32 रन बनाए। क्लिंट मैके (30) और डेवियर डोर्थी (नाबाद 15) ने अंतिम विकेट के लिए 41 रन जोड़े और अपनी टीम को जीत की ओर ले जाते दिखे थे लेकिन 43वें ओवर की तीसरी गेंद पर दिलशान ने मैके को शानदार तरीके से अपनी ही गेंद पर लपक लिया। मैके ने 58 गेंदों पर दो चौके लगाए।

मैके, डोर्थी, वोग्स, मैक्सवेल और वेड ने जिस तरह की बल्लेबाजी की, उसे देखकर यही लगा कि शेन वॉटसन (5), जार्ज बेले (4), फिलिप ह्यूज (13) और जेम्स फॉल्कनर (17) जैसे दिग्गजों का साथ अगर आस्ट्रेलिया को मिला होता तो वह यह मैच आसानी से जीत सकता था।

इससे पहले, लाहीरू थिरिमाने (57) तथा माहेला जयवर्धने (नाबाद 84) के संघर्षपूर्ण अर्धशतकों की बदौलत श्रीलंका ने टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करते हुए 50 ओवरों में आठ विकेट पर 253 रन बनाए। पहले ही ओवर की तीसरी गेंद पर आठ रनों के योग पर कुशल परेरा (4) का पहला विकेट गिर गया और तीन ओवरों के अंतराल पर ही कुमार संगकारा (3) भी ग्लेन मैक्सवेल को कैच थमा चलते बने।

इसके बाद तीसरे विकेट के लिए तिलकरत्ने दिलशान (34) और थिरिमाने ने पारी संभाली और 72 रनों की साझेदारी की। दिलशान 23वें ओवर की दूसरी गेंद पर शेन वाटसन के हाथों लपके गए। फिर पांचवें विकेट के लिए थिरिमाने का साथ देने आए जयवर्धने। दोनों बल्लेबाजों ने 55 गेंदों में 36 रनों की साझेदारी की और इस बीच थिरिमाने ने अपना अर्धशतक भी पूरा कर लिया। अर्धशतक के बाद हालांकि वह ज्यादा देर टिक नहीं पाए और मिशेल जॉनसन की गेंद पर वाटसन के हाथों लपके गए।

थिरिमाने ने 86 गेंदों का सामना किया और चार चौके लगाए। थिरिमाने के जाने के बाद जयवर्धने एक छोर संभालकर अंत तक खड़े रहे और उनका साथ सबसे अधिक देर तक छठे विकेट की साझेदारी में दिनेश चांडीमल (31) ने दिया। इससे पहले जयवर्धने एंजेलो मैथ्यूज के साथ 31 रनों की छोटी सी साझेदारी निभा चुके थे। मैथ्यूज का विकेट 37वें ओवर की आखिरी गेंद पर गिरा तो चांडीमल 47वें ओवर की दूसरी गेंद पर जॉनसन ने फिलिप ह्यूजेस के हाथों कैच आउट करवाया। चांडीमल ने 32 गेंदों में एक चौका और एक छक्का लगाया।

जयवर्धने के नेतृत्व में श्रीलंका ने आखिरी 10 ओवरों में 75 रन बनाए। जयवर्धने ने 81 गेंदों की अपनी नाबाद पारी में 11 चौके जड़े। आस्ट्रेलिया की तरफ से जॉनसन ने तीन विकेट चटकाए जबकि क्लिंट मैके, जेम्स फॉकनर तथा जेवियर डोहार्टी ने एक-एक विकेट हासिल किया।

Story first published:  Tuesday, June 18, 2013, 10:07 [IST]
English summary
Sri Lanka set up a semi-final date with India after knocking holders Australia out with a 20-run victory in the final Group A match of the Champions Trophy 2013.
कमेंट लिखें