Englishಕನ್ನಡമലയാളംதமிழ்తెలుగు

स्‍पॉट फिक्सिंग: आईपीएल के घोटाले सामने आने चाहिए

     Published: Monday, July 22, 2013, 13:00 [IST]
 

कोलकाता। भारत के लिए पहला विश्वकप लाने वाले भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान कपिल देव ने शनिवार को कहा कि मैदान से बाहर होने वाले घपले छिपाए नहीं जाने चाहिए, जैसा कि आईपीएल के छठे संस्करण में हुआ। कपिल ने कहा, "गलतियां सुधारें, कोई भी पीछे हुईं गलतियां भूल नहीं सकता। अगर आप अच्छा खेल रहे हैं तो गलत आदतें छिपी रहती हैं, लेकिन हमें उन्हें ढकना नहीं चाहिए।"

कपिल ने आगे कहा, "मैं उम्मीद करता हूं कि हमारी समझ बेहतर है, तथा आगे किसी तरह की नकारात्मक चीजें देखने को नहीं मिलेंगी तथा अधिकारियों को बेहतर तरीके से मदद दी जाएगी।"

स्‍पॉट फिक्सिंग: आईपीएल के घोटाले सामने आने चाहिए

आईपीएल के छठे संस्करण में मैच फिक्सिंग के आरोप में राजस्थान रॉयल्स के तीन खिलाड़ियों को 16 मई को मुंबई के होटल से दिल्ली पुलिस द्वारा गिरफ्तार किए जाने के साथ ही आईपीएल को लेकर काफी बवाल मचा था। इस सट्टेबाजी घोटाले में भारत के प्रमुख तेज गेंदबाज एस. श्रीसंत सहित अजित चंदेला और अंकित चव्हाण के साथ-साथ देशभर के प्रमुख शहरों से 11 सट्टेबाजों को भी गिरफ्तार किया गया है।

यहां तक कि इसकी आंच बीसीसीआई के अध्यक्ष एन. श्रीनिवासन तक भी पहुंची। श्रीनिवासन ने काफी हो-हल्ले के बावजूद इस्तीफा भले न दिया हो पर मामले की जांच पूरी होने तक जगमोहन डालमिया को बीसीसीआई का अंतरिम अध्यक्ष नियुक्त करना पड़ा।

English summary
India's first cricket World Cup winning captain Kapil Dev has said there should be no cover up of off-field mistakes like the mess that accompanied the sixth edition of the IPL.
कमेंट लिखें