Englishಕನ್ನಡമലയാളംதமிழ்తెలుగు

मेरी टीम में द्रविड़ हमेशा नंबर तीन रहेंगे: सचिन तेंदुलकर

Posted by:
     Published: Monday, October 7, 2013, 15:06 [IST]
 

नई दिल्‍ली। यह आखिरी बार था जब भारत के दो महान खिलाड़ी सचिन तेंदुलकर और राहुल द्रविड़ टी20 में खेले। जहां राहुल द्रविड़ राजस्‍थान रॉयल्‍स की अगुवाई कर रहे थे वहीं सचिन तेंदुलकर मुंबई इंडियंस टीम का प्रतिनिधित्‍व कर रहे थे। मैच के पहले सचिन ने राहुल द्रविड़ के बारे में कहा कि वह एक 'मास्‍टर टेक्‍नीशियन' हैं। मेरी पसंद की किसी भी टीम में वह नंबर तीन पर ही खेलेंगे क्‍योंक‍ि उनके पास ऐसी तकनीक है कि आप आंख मूंदकर उन पर भरोसा कर सकते हैं। सचिन का कहना है कि कई बार ऐसा हुआ जब राहुल ने अच्‍छी बल्‍लेबाजी की, जहां पूरी टीम को मुश्किलें हुई।

मैच के पहले राहुल द्रविड़ ने भी सचिन की प्रशंसा करते हुए कहा कि वह उम्र में मुझसे दो महीने छोटे हैं पर टीम इंडिया में मुझसे सात साल सीनियर रहें हैं। जब मैंने इंग्‍लैंड के लार्ड्स में अपने करिअर की शुरूआत की उसके तीसरे मैच में सचिन टीम के कप्‍तान थे। मैंने हमेशा ही उनसे प्रेरणा ली है। उनका प्रदर्शन पूरी टीम को प्रेरित करता था, हम सोंचते थे कि जब वह ऐसा कर सकते हैं तो हमें भी कोशिश करनी चाहिए।

मेरी टीम में द्रविड़ हमेशा नंबर तीन रहेंगे: सचिन तेंदुलकर

40 वर्षीय द्रविड़ ने कहा कि मैंने लंबे समय तक सचिन के साथ ड्रेसिंग रूम शेयर किया जो कि मेरे लिए खास बात है। गौरतलब है राहुल द्रविड़ सन 2012 की शुरूआत में ही अन्‍तर्राष्‍ट्रीय क्रिकेट से सन्‍यास ले चुके हैं। जबकि सचिन ने 2012 के अंत में वनडे से सन्‍यास की घोषण की थी। यह सचिन का आखिरी टी20 मैच था। इसके बाद उनका फोकस टेस्‍ट क्रिकेट पर है और उम्‍मीद की जा रही है कि वह टेस्‍ट को भी जल्‍दी ही अलविदा कह देंगे।

English summary
Sachin Tendulkar and Rahul Dravid heaped encomiums on each other with the latter saying that his long time former India team-mate had inspired him to strive for excellence in the game.
कमेंट लिखें